Janani Suraksha Yojana: कैसे और कितनी मदद उठा सकती हैं गर्भवती महिलाएं

जननी सुरक्षा योजना | Janani Suraksha Yojana Application Form | पीएम जननी सुरक्षा योजना रजिस्ट्रेशन | JSY Appication Form Download | पीएम जननी सुरक्षा योजना पीडीएफ

Janani Suraksha Yojana: केंद्र सरकार की ओर से देश के अलग-अलग तबकों के लिए कई सारी योजनाएं चलाई जाती हैं। इन योजनाओं के जरिये सरकार लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान करती है। इस (Janani Suraksha Yojana) आर्टिकल में आज हम आपको केंद्र सरकार की ऐसी ही योजना के बारे में बताएंगे, जिसके जरिये सरकार देश की गरीब महिलाओं को आर्थिक मदद देती है। इस योजना के जरिये सरकार द्वारा गरीब महिलाओं को 3400 रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है। इस योजना के बारे में विस्तार से जानते हैं। नवजात शिशु तथा गर्भवती महिलाओं की स्थिति में सुधार करने के लिए सरकार समय-समय पर योजनाएं आरंभ करती रहती है। जननी सुरक्षा योजना भी उन्हीं योजनाओं में से एक है। इस योजना का आरंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2005 में किया था।

क्या है Janani Suraksha Yojana

Janani Suraksha Yojana
Janani Suraksha Yojana

जननी सुरक्षा योजना राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के तहत एक सुरक्षित मातृत्व कार्यक्रम है। इसका उद्देश्य गरीब गर्भवती महिला में सुरक्षित प्रसव को बढ़ावा देना है। केंद्र सरकार इसके लिए गर्भवती महिलाओं को आर्थिक मदद देती है। इस जननी सुरक्षा योजना का लाभ केवल गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाली महिलाएं ही उठा सकती हैं। जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं को दो श्रेणियों में बांटा गया है।

इस योजना (Janani Suraksha Yojana) का लाभ उठाने के लिए गर्भवती महलाओं को सरकारी अस्पताल या मान्य प्राप्त निजी अस्पताल में प्रसव कराना जरूरी है। इस योजना के तहत सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक अकाउंट में भेजी जाती है। इसलिए गर्भवती महिलाओ का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है और बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक भी होना चाहिए। इस आलेख के माध्यम से आपको जननी सुरक्षा योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी।

जननी सुरक्षा योजना के लिए महिलाओं की दो श्रेणियां

आपको बता दें कि इस Janani Suraksha Yojana के लिए महिलाओं की श्रेणी कुछ इस प्रकार हैं:

ग्रामीण क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं: जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत ग्रामीण महिलाएं, जो गर्भवती हैं और गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करती हैं, उन्हें सरकार द्वारा 1400 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इसके अलावा आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए 300 रुपए और प्रसव के बाद सेवा प्रदान करने के लिए 300 रुपए दी जाती है।

शहरी क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं: इस योजना (Janani Suraksha Yojana) के अंतर्गत शहरी क्षेत्र की गरीब गर्भवती महिलाओं को प्रसव के समय 1000 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इसके अलावा आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए 200 रुपए और प्रसव के बाद सेवा प्रदान करने के लिए 200 रुपए प्रदान किए जाते हैं।

जननी सुरक्षा योजना 2022 की विशेषताएं

नीचे हमने आपको जननी सुरक्षा योजना (Janani Suraksha Yojana) की विशेषताएं बतायी है जो यह दर्शाती है:

  • JSY सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लागू की गई है, लेकिन मुख्य लक्ष्य निम्न प्रदर्शन करने वाले राज्यों जैसे बिहार, उड़ीसा, राजस्थान, झारखंड, एमपी, यूपी, जम्मू-कश्मीर, छत्तीसगढ़ आदि का विकास करना है।
  • योजना के अंतर्गत पंजीकृत प्रत्येक लाभार्थी के पास एमसीएच कार्ड के साथ-साथ जननी सुरक्षा योजना कार्ड भी होना जरूरी है।
  • JSY 2022 एक 100% केंद्र प्रायोजित योजना है और यह नकद सहायता को एकीकृत करता है।
  •  इस योजना (Janani Suraksha Yojana) ने ASHA को मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता के रूप में पहचान की है।
  • जो गर्भवती महिलाये आंगनवाड़ी या आशा के चिकित्सकों की सहायता से घर पर बच्चे को जन्म देती है। इन उम्मीदवारों 500 रुपये की राशि मिलेगी।
  • बच्चे की नि:शुल्क डिलीवरी के बाद पांच साल तक जच्चा-बच्चा के टीकाकरण को लेकर उन्हें जानकारी भेजी जाती है और नि:शुल्क टीकाकरण किया जाता है।
  • जननी सुरक्षा योजना 2022 के तहत पंजीकरण कराने वाली सभी महिलाओं को कम से कम दो प्रसव-पूर्व जाँच, बिल्कुल मुफ्त दी जाएँगी।
  • इसके अलावा, आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भी संबंधित सेवाओं के साथ डिलीवरी के बाद की अवधि में उनकी सहायता की जाएगी।

JSY 2022 का उद्देश्य

जैसे की आप लोग जानते है गरीबी रेखा से जीवन यापन करने वाली महिलाये अपने गर्भवस्था के समय अपनी स्वास्थ्य सम्बन्धी जरूरतों को पूरा नहीं कर पाती और न ही अपनी आर्थिक ज़रूरतों को पूरा कर पाती है। ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सा सुविधाओं की उपलब्धता अभी भी काफी मुश्किल है। इन अभी परशानियों को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा इस योजना को (Janani Suraksha Yojana) शुरू किया गया है। इस JSY 2022 के ज़रिये गर्भवती महिलाओ को चिकित्सा सुविधा और वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इस योजना के ज़रिये सरकार न केवल माताओं की मृत्यु दर को कम करेगी, बल्कि बच्चों की मृत्यु को भी कम करेगी। इससे ग़रीब महिलाएं भी अस्पताल में सुरक्षित डिलीवरी करवा सके ताकि ज़च्चा बच्चा आपात स्थितियों से बच सकें और सुरक्षित हों।

Janani Suraksha Yojana 2022 की पात्रता

  • इस योजना के तहत देश के ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रो की गर्भवती महिलाये अपना पंजीकरण करवा सकती है।
  • सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओ को तभी आर्थिक सहायता प्रदना की जायेगा जब वह 19 वर्ष या उससे अधिक आयु के हों।
  • इस आयु के नीचे कोई भी व्यक्ति नामांकन नहीं कर सकता है।
  • JYS के तहत नामांकित हुई हैं, उन्हें केवल सरकारी अस्पतालों या किसी निजी संस्थान में जाना होगा जो सरकार द्वारा चुनी गई है।
  • केवल दो बच्चों को जन्म देने के लिए, गर्भवती महिलाओं को सभी चिकित्सा और वित्तीय सुविधाएं इस Janani Suraksha Yojana 2022 के तहत सरकार की तरफ से प्रदान की जाएंगी।
  • यदि गर्भवती महिला मृत बच्चे को जन्म देती है, तो समय से पहले या बीच में जीवित बच्चों को जन्म देना वैध मामलों के रूप में माना जाएगा।
  • कार्यक्रम के तहत वादे के अनुसार महिलाओं को पैसे दिए जाएंगे।
  • इस योजना के तहत देश की गरीबी रेखा से नीचे आने वाली महिलाओ को लाभ प्रदान किया जायेगा।

जननी सुरक्षा योजना 2022 के दस्तावेज़

Janani Suraksha Yojana के लिए इन दस्तावेजों की होगी आपको जरुरत:

  • आवेदिका का आधार कार्ड।
  • बीपीएल राशन कार्ड।
  • पते का सबूत।
  • निवास प्रमाण पत्र।
  • जननी सुरक्षा कार्ड।
  • सरकारी अस्पताल द्वारा जारी डिलीवरी सर्टिफिकेट।
  • बैंक अकाउंट पासबुक।
  • मोबाइल नंबर।
  • पासपोर्ट साइज फोटो।

जननी सुरक्षा योजना 2022 में आवेदन कैसे करें

इस जननी सुरक्षा योजना (Janani Suraksha Yojana) के लिए इस तरह करें आवेदन:

  • देश के जो इच्छुक गर्भवती महिलाये Janani Suraksha Yojana 2022 के तहत सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्राप्त करना चाहती है तो वह उन्हें सबसे पहले Ministry of Health and Family Welfare, Government of India की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर जननी सुरक्षा योजना की Application Form PDF Download करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म  को डाउनलोड करने के बाद आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे महिला का नाम, विलेज नाम, पता,आदि भरनी होगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको आवेदन फॉर्म में साथ अपने सभी दस्तावेज़ों को अटैच करना होगा।
  • फिर आपको आवेदन फॉर्म को आंगनवाड़ी या महिला स्वास्थ्य केंद्र में जाकर जमा करना होगा।

दी जाती है नगद राशि Janani Suraksha Yojana के द्वारा

जननी सुरक्षा योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र की वह महिलाएं जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करती हैं, उन महिलाओं को सरकार द्वारा 1400 रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है। सबके अलावा आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए 300 की राशि दी जाती है। प्रसव के बाद भी सेवा देने के लिए 300 की राशि दी जाती है।

शहरी क्षेत्र की महिलाओं को जननी सुरक्षा योजना के तहत प्रसव के समय सरकार द्वारा 1000 रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है। इसके अलावा आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए 200 रुपये दिए जाते हैं। प्रसव के बाद सेवा देने के लिए भी आशा सहयोगी को 200 रुपये की राशि दी जाती है।

Leave a Comment