National Pension Yojana: जानें क्या है योजना और कैसे करें इसके लिए आवेदन

नेशनल पेंशन स्कीम ऑनलाइन आवेदन | National Pension Yojana | Open NPS Account | National Pension Scheme Application Form

National Pension Yojana: आपको बता दें की रिटायरमेंट प्लैनिंग जिंदगी का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने नेशनल पेंशन स्कीम का आरंभ किया है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से इस स्कीम से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि नेशनल पेंशन स्कीम क्या है, इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया, हेल्पलाइन नंबर आदि। तो दोस्तों यदि आप National Pension Scheme से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ें।

क्या है National Pension Scheme

NPS या नेशनल पेंशन योजना (National Pension Yojana) एक सरकारी निवेश की स्कीम है। इस स्कीम के माध्यम से रिटायरमेंट के बाद पेंशन दी जाती है। इस स्कीम को 2004 में सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए शुरू किया गया था। 2009 से यह स्कीम सभी कैटेगरी के लोगों के लिए खोल दी गई। कोई भी व्यक्ति अपने कामकाजी जीवन में पेंशन खाते में योगदान देकर इस स्कीम का लाभ उठा सकता है। जमा की गई राशि का कुछ हिस्सा वह रिटायरमेंट से पहले भी निकाल सकता है और बची हुई राशि रिटायरमेंट के बाद नियमित आय प्राप्त करने के लिए कर सकता है। National Pension Yojana में नियोक्ता और कर्मचारी दोनों निवेश करते हैं। एनपीएस के तहत कर्मचारी रिटायरमेंट के समय कुल जमा राशि का 60% निकाल सकते हैं और बची हुई 40% राशि पेंशन योजना में चली जाती है।

नेशनल पेंशन स्कीम नई अपडेट

आपको बता दें की अब तक सरकारी कर्मचारियों को National Pension Yojana के अंतर्गत भौतिक रूप में पंजीकृत किया जाता था। जो कि केंद्रीय रिकॉर्ड कंपनी एजेंसी या फिर सरकार के नोडल कार्यालयों द्वारा अपनाई गई ऑनलाइन मॉड्यूल के माध्यम से किया जाता था। अब पेंशन फंड नियामक और विकास पढ़ीकरण द्वारा नेशनल पेंशन स्कीम के अंतर्गत पंजीकरण करने के लिए ऑनलाइन सुविधा आरंभ की जा रही है। इसके अंतर्गत अब कर्मचारी अपना एनपीएस अकाउंट ऑनलाइन खोल सकते हैं। ऑनलाइन प्रक्रिया को ई एनपीएस के नाम से जाना जाएगा। ई एनपीएस सीआरए द्वारा होस्ट किया जाएगा। जिसके अंतर्गत सब्सक्राइबर अपना पंजीकरण कर सकता है और एनपीएस के अंतर्गत अपना योगदान भी दे सकता है।

National Pension Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

नीचे दी गयी जानकारी को पढ़कर आप नेशनल पेंशन स्कीम (National Pension Yojana) के लाभ एवं विशेषताओं के विषय में जानकारी प्राप्त कर सकते है। ये जानकारी निम्न प्रकार है:

  • यह एक सरकार द्वारा चलायी जा रही इन्वेस्टमेंट योजना है।
  • योजना के माध्यम से लाभार्थी को रिटायर होने के बाद पेंशन दी जाएगी।
  • सब्सक्राइबर POP(पॉइंट ऑफ़ प्रजेंस) यानि ऑफलाइन माध्यम से NPS अकाउंट खोल सकते है।
  • अगर कोई भी कर्मचारी स्कीम के तहत मिनिमम इन्वेस्टमेंट राशि को जमा नहीं कर पाता तो उसका NPS अकाउंट स्थिर (FREEZE) हो जायेगा।
  • अकाउंट को दोबारा खुलवाने के लिए उसे 100 रुपये का दंड शुल्क देना होगा।
  • सब्सक्राइबर इनकम टैक्स एक्ट धारा 80C के तहत 50000 तक एक इन्वेस्टमेंट में टैक्स की कटौती की मांग कर सकता है।
  • NPS में आप 3 तरह से अपने पैसे को इन्वेस्ट कर सकते है:
    • इक्विटी
    • कॉर्पोरेट बॉन्ड
    • सिक्युरिटीज
  • ई-NPS पोर्टल द्वारा ऑनलाइन मोड से एकाउंट आसानी से खोला जा सकता है।
  • यदि आप NPS के TIER-1 में पैसे जमा करते है तो आपको इनकम टैक्स बेनिफिट मिलता है। वह इनकम टैक्स एक्ट धारा 80C के अंतर्गत ग्रॉस इनकम जो की 1.5 लाख का 10% तक का टैक्स कम करने का क्लेम कर सकता है।
  • अब इस स्कीम (National Pension Yojana) के तहत योगदान 14 फीसदी हो चुका है।
  • आवेदक NPS में मिनिमम 6000 रुपये तक का INVESTMENT कर सकता है।
  • अगर किसी भी इन्वेस्टर की 60 साल से पहले मौत हो जाती है तो उसकी जमा राशि उसके बनाये गए नॉमिनी को प्रदान कर दी जाएगी।
  • NPS के अन्तर्गत इन्वेस्टर्स PRAN (परमानेंट रिटायरमेंट अकाउंट नंबर) ऑनलाइन माध्यम द्वारा प्राप्त कर सकते है। यह 12 डिजिट का अकाउंट नंबर होता है। जिससे वह लेने देने का कार्य आसानी से कर सकते है।

National Pension Yojana की पात्रता

राष्ट्रीय पेंशन स्कीम (National Pension Yojana) का लाभ पाने हेतु आपको इसकी कुछ पात्रताओं को जानना पड़ेगा, जिससे आपको रजिस्ट्रेशन करते वक़्त कोई परेशानी नहीं होगी। पात्रता इस प्रकार से है:

  1. इस स्कीम का लाभ पाने के लिए आवेदक देश का नागरिक होना चाहिए।
  2. आवेदक की उम्र 18 से 60 साल के बीच होनी चाहिए।
  3. KYC भरने के बाद ही आप इस योजना के पात्र समझे जायेंगे।
  4. देश में रह रहे लोग व विदेश में रह रहे भारतीय नागरिक इस स्कीम में इन्वेस्ट कर सकते है।

नेशनल पेंशन स्कीम के खाते के प्रकार

National Pension Yojana में दो तरह के खाते होते हैं जो कि कुछ इस प्रकार हैं:

  • टायर 1- इस अकाउंट में जो भी पैसे जमा करवाए जाएंगे मैं वक्त से पहले निकाले नहीं जा सकते। यह अकाउंट खुलवाने के लिए आपको टायर टू का अकाउंट होल्डर होना अनिवार्य नहीं है। जब आप स्कीम से बाहर हो जाएंगे तब ही इसके पैसे आप निकाल सकते हैं।
  • टायर 2- इस अकाउंट को खोलने के लिए आपको टायर वन का अकाउंट होल्डर होना अनिवार्य है। आप इसमें अपनी इच्छा के अनुसार पैसे जमा या निकाल सकते हैं। यह अकाउंट सभी को खुलवाना अनिवार्य नहीं है।

NPS के लाभार्थी

निम्नलिखित लोग इस खाते (National Pension Yojana) में निवेश कर सकते हैं:-

  • केंद्रीय सरकार के कर्मचारी।
  • राज्य सरकार के कर्मचारी।
  • निजी क्षेत्र के कर्मचारी।
  • आम नागरिक।

नेशनल पेंशन स्कीम में खाता खोलने की प्रक्रिया

ऑफलाइन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीओपी-पॉइंट ऑफ प्रेजेंस खोजना होगा।
  • अब आपको पीओपी से सब्सक्राइब फॉर्म लेना होगा
  • आपको इस सब्सक्राइबर फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक भरनी होगी। आप सब्सक्राइबर फॉर्म यहां दी गई लिंक पर क्लिक करके भी डाउनलोड कर सकते है।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • इसके पश्चात (National Pension Yojana) आपको इस फॉर्म को पीओपी- पॉइंट ऑफ प्रेजेंस मैं सबमिट करना होगा। आपको इस फॉर्म को केवाईसी पेपर्स के साथ जमा करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पॉइंट ऑफ प्रेजेंस से एक रेफरेंस नंबर मिलेगा जिसके माध्यम से आप अपनी एप्लीकेशन ट्रैक कर सकते हैं।
  • जब आप आवेदन करें तो आपको अपनी पहली कंट्रीब्यूशन जमा करनी होगी। इसके लिए आपको इंस्ट्रक्शन स्लिप भी सबमिट करनी होगी जिसमें आपकी पेमेंट की डिटेल्स होंगी।

ऑनलाइन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको नेशनल पेंशन सिस्टम (National Pension Yojana) की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको ओपन योर एनपीएस अकाउंट/ कंट्रीब्यूट ऑनलाइन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको नेशनल पेंशन सिस्टम पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछे गए सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपको दर्ज करनी होगी जैसे की एप्लीकेशन टाइप, स्टेटस आफ एप्लीकेंट, रजिस्टर विद, आधार नंबर, मोबाइल नंबर आदि और अकाउंट टाइप में टायर वन ओन्ली सिलेक्ट कीजिए।
  • अब आपको कंटिन्यू पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने कंपलीट पेंडिंग रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा इसमें सभी जरूरी जानकारियां जैसे कि एक्नॉलेजमेंट नंबर, एक्नॉलेजमेंट डेट, फर्स्ट नेम, डेट ऑफ बर्थ, ईमेल एड्रेस, आदि भरना होगा।
  • अब आपको सबमिट पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक ई- साइन फॉर्म खुलकर आएगा इसमें सभी जरूरी जानकारियां भरनी होगी और सबमिट पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आपका रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Leave a Comment