PM Kisan FPO Yojana: किसानों को सरकार देगी 15 लाख रुपये की मदद, ऐसे करें अप्लाई

PM Kisan FPO Yojana: भारत सरकार द्वारा समय-समय पर कई तरह की योजनाएं लाई जाती हैं, जिनकी मदद से जरूरतमंदों की मदद हो पाए, फिर चाहे वो आम नागिरक हों या फिर देश का किसान।

सरकार द्वारा लगभग हर किसी के लिए कई तरह की योजनाओं को लाया जाता है, और इनका लाभ जन-जन तक पहुंचाने का काम भी चलता है।

इसी कड़ी में सरकार द्वारा PM Kisan FPO Yojana देश के किसानों को कृषि बिजनेस शुरू करने के लिए 15 लाख रुपये तक मिल सकते हैं।

दरअसल, सरकार की तरफ से पीएम किसान एफपीओ योजना की शुरूआत की गई है, जिसके अंतर्गत फॉर्मर्स प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशन को 15 लाख रुपये तक दिए जाएंगे।

ये एक वित्तीय सहायता होगी, जिसके लिए 11 किसानों को मिलकर एक ऑर्गेनाइजेशन या कंपनी बनानी होगी। इसके बाद ये सभी 15 लाख रुपये तक पा सकते हैं, जिससे आप कृषि से जुड़े उपकरण, बीज आदि चीजें खरीद सकते हैं।

यहां जानें कैसे मिलेंगे 15 लाख

खबरों की मानें तो केंद्र सरकार ने पीएम किसान FPO स्कीम शुरू की है. स्कीम के तहत फॉर्मर्स प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशन को 15 लाख रुपये दिए जाएंगे।

देशभर के सभी किसानों को नया बिजनेस शुरू करने के लिए सरकार की तरफ से वित्तीय सहायता होगी और इस स्कीम का फायदा लेने के लिए 11 किसानों को मिलकर एक ऑर्गेनाइजेशन या कंपनी बनानी होगी।

इससे किसानों को कृषि से संबंधित उपकरण या फर्टिलाइजर्स, बीज, दवाएं खरीदने में आसानी होगी।

क्या है PM Kisan FPO Yojana का उद्देश्य

आपको बता दें कि सरकार पिछले कई काफी समय से इस कोशिश में लगी हुई है कि किसानों को डायरेक्ट लाभ मिल सके।

इस PM Kisan FPO Yojana के तहत किसानों को किसी भी दलाल या फिर महाजन के पास जाने की कोई जरूरत नहीं होगी।

योजना के तहत किसानों को तीन सालों में किस्तों में भुगतान किया जा सकेगा, तो वहीं, साल 2024 तक 6885 करोड़ रुपये सरकार की तरफ से खर्च किए जाएंगे।

पीएम किसान एफपीओ योजना के लाभ

यदि आप इस PM Kisan FPO Yojana के लाभ जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को आगे पढ़ें।

  • केंद्र सरकार ने राज्य के किसानों के कल्याण के लिए योजना शुरू की।
  • यह योजना (PM Kisan FPO Yojana) उन किसानों के लिए बहुत सुविधाजनक है जो उर्वरक, बीज, दवाएं और कृषि उपकरण जैसी आवश्यक वस्तुएं खरीद सकते हैं।
  • बिचौलियों को सीधे किसानों को राशि का भुगतान करने की अनुमति नहीं होगी।
  • केंद्र सरकार 15 लाख एफपीओ (Farmer Producer Organizations) किसानों को वित्तीय सहायता के रूप में देगी।
  • खेती को बेहतर बनाने के लिए एफपीओ के बीच वित्तीय राशि मुहैया कराई जाएगी। योजना का मुख्य उद्देश्य खेती से बेहतर वित्तीय सहायता प्रदान करना है।
  • एफपीओ कंपनी को सभी लाभ पहुंचाएंगे।
  • योजना से सहायता पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार 2024 तक 6865 करोड़ रुपये का निवेश करेगी।
  • कृषि मंत्रालय श्री कैलाश चौधरी ने कहा कि इस योजना (PM Kisan FPO Yojana) के माध्यम से 10,000 नए एफपीओ भी बनाए जाएंगे।
  • अगर आप अप्लाई करना चाहते हैं तो ऑनलाइन और ऑफलाइन दो प्रोसेस हैं।
  • आप अपनी पसंद के अनुसार आवेदन कर सकेंगे।
  • हालांकि केंद्र सरकार ने कहा कि पंजीकरण प्रक्रिया जल्द ही प्रकाशित की जाएगी।
  • वहीं इस योजना का लाभ कोई भी किसान उठा सकता है, वह देश में कहीं से भी लाभ प्राप्त कर सकता है।

किसान एफपीओ योजना (PM Kisan FPO Yojana) पात्रता

पीएम किसान एफपीओ योजना के लिए कई पात्रता नीचे दिए गए हैं:

  • उम्मीदवार पेशे से किसान होना चाहिए।
  • उम्मीदवारों के नाम पर उनकी खेती की जमीन होनी चाहिए।
  • ग्रामीण क्षेत्रों के एफपीओ के तहत 300 किसानों का होना जरूरी है।
  • उम्मीदवार भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक किसी भी एफपीओ समूह का हिस्सा होना चाहिए।
  • पहाड़ी इलाकों में एफपीओ PM Kisan FPO Yojana के तहत सौ किसानों की जरूरत है।

पीएम किसान एफपीओ योजना पंजीकरण फॉर्म

इस प्रधान मंत्री किसान एफपीओ योजना के लिए पंजीकरण ऐसे करें:

  • सबसे पहले एक आवेदक के रूप में, आप पीएम किसान एफपीओ योजना (PM Kisan FPO Yojana) की आधिकारिक वेबसाइट खोल सकते हैं।
  • फिर आप किसान वाले ऑप्शन में जाएंगे।
  • आपको किसान पंजीकरण का विकल्प दिखाई देगा।
  • फिर आप उस पर टैप कर सकते हैं।
  • अब स्क्रीन पर आपके सामने एक आवेदन पत्र दिखाई देगा।
  • आवेदन पत्र पर आपको अपने सभी आवश्यक विवरण सही ढंग से भरने होंगे।
  • फिर आप अपने आवेदन पत्र के साथ भूमि दस्तावेज संलग्न कर सकते हैं।
  • अंत में आपको सबमिट बटन पर हिट करना होगा।
  • फिर आपका रजिस्ट्रेशन हो जायेगा।

Leave a Comment