Post Office Small Saving Scheme: हर महीने मिलेंगे 4,950 रुपये, केवल एक बार करना होगा निवेश

Post Office Small Saving Scheme: डाकघर की छोटी बचत योजनाएं (Post Office Small Saving) आपको शानदार रिटर्न प्रदान करती हैं और ये योजनाएं उन लोगों के लिए आदर्श मानी जाती हैं जो गारंटीड रिटर्न योजनाओं में विश्वास करते हैं।

ऐसी ही एक पोस्ट ऑफिस स्मॉल सेविंग स्कीम है मंथली इनकम स्कीम, जिसके लिए 1000 रुपये के गुणकों में खाता खोला जा सकता है।

एकल खाते में अधिकतम निवेश सीमा 4.5 लाख रुपये और संयुक्त खाते में 9 लाख रुपये है। एक व्यक्ति एमआईएस (संयुक्त खातों में उसके हिस्से सहित) में अधिकतम 4.5 लाख रुपये का निवेश कर सकता है। संयुक्त खाते में किसी व्यक्ति के हिस्से की गणना के लिए, प्रत्येक संयुक्त खाते में प्रत्येक संयुक्त धारक का समान हिस्सा होता है।

कितना कर सकते हैं इंवेस्ट

आपको बता दें कि इस स्कीम में कम-से-कम 1,000 रुपये इंवेस्ट किया जा सकता है। एकल खाते में अधिकतम 4.5 लाख रुपये और ज्वाइंट अकाउंट में 9 लाख रुपये का निवेश किया जा सकता है।

यह भी बता दें आपको कि ज्वाइंट अकाउंट में सभी अकाउंट होल्डर की हिस्सेदारी बराबर होती है।

मासिक Post Office Small Saving आय योजना

इस योजना के तहत निवेशकों को हर महीने एक निश्चित रकम कमाने का मौका मिलता है। इस योजना में आपको एकमुश्त या संयुक्त खाते में एकमुश्त राशि जमा करनी होती है।

इसके बाद इस राशि के हिसाब से हर महीने आपके खाते में पैसा आता है। यहां आप एक खाते में अधिकतम 5 लाख रुपये जमा कर सकते हैं।

जबकि संयुक्त खाता होने पर अधिकतम 9 लाख रुपये जमा किए जा सकते हैं। पोस्ट ऑफिस की इस छोटी बचत Post Office Small Saving योजना में परिपक्वता अवधि 5 वर्ष है। इस मासिक आय योजना के तहत 6.6 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर दी जा रही है।

इतना मिल रहा है यह ब्याज

पोस्ट ऑफिस की इस बेहद पॉपुलर Post Office Small Saving स्कीम में निवेश पर आपको सालाना 6.6 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है।

रिटर्न की यह दर सेविंग अकाउंट में जमा रकम या फिक्स्ड डिपोजिट की तुलना में अधिक है। स स्कीम के तहत इंवेस्टमेंट करने पर ग्राहक को हर महीने ब्याज मिल जाता है. अगर आप हाल में रिटायर हुए हैं, तो यह स्कीम आपके लिए है।

जानिए Post Office Small Saving मेच्योरिटी की अवधि

अकाउंट ओपन होने के पांच साल बाद आप निर्धारित फॉर्मेट में अप्लीकेशन फॉर्म भरकर संबंधित पोस्ट ऑफिस में फॉर्म जमा कर अपना अकाउंट क्लोज करा सकते हैं।

वहीं, अगर मेच्योरिटी से पहले अकाउंटहोल्डर की मौत हो जाती है तो अकाउंट बंद करके निवेश की राशि नॉमिनी या अकाउंटहोल्डर के कानूनी वारिस को वापस की जा सकती है।

रिफंड प्रोसेस किए जाने के महीने तक का Post Office Small Saving ब्याज भी नॉमिनी या कानूनी वारिस को मिलेगा।

इस प्रकार हर माह मिलेंगे 4,950 रुपये

Post Office Small Saving स्कीम में निवेश पर 6.6 फीसदी का सालाना ब्याज मिल रहा है। स तरह कैलकुलेट किया जाए तो देखा जा सकता है कि अगर सिंगल अकाउंटहोल्डर मैक्सिमम 4.5 लाख रुपये का इंवेस्टमेंट करता है तो उसे हर साल 29,700 रुपये का इंटरेस्ट मिलेगा।

इस तरह एकल खाताधारक को प्रतिमाह 2,475 रुपये का ब्याज मिलेगा। वहीं, ज्वाइंट अकाउंटहोल्डर को 9 लाख रुपये के निवेश पर सालाना 59,400 रुपये का ब्याज मिलेगा।

इस तरह अगर आप पोस्ट ऑफिस में ज्वाइंट MIS अकाउंट खुलवाते हैं और 9 लाख रुपये का निवेश करते हैं तो आपको हर माह 4,950 रुपये का रिटर्न मिलेगा।

Leave a Comment