प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना: (PMMSY) मछली पालकों के लिए योजना है काफी लाभकारी, जानिए अप्लाई करने का तरीका और जरूरी डॉक्यूमेंट्स के बारे में। 

मत्स्यपालन के विकास की व्यापक संभावना को देखते हुए दिसंबर 2014 में, मत्स्यपालन क्षेत्र में “एक क्रांति” का आह्वान किया गया था और इसे “ब्लू रेवोल्यूशन”यानी नीली क्रांति का नाम दिया था।

इसके अंतर्गत सरकार द्वारा मत्स्यपालन क्षेत्र में नीली क्रांति को लाने के लिए कई पहल शुरू की गई ताकि एक स्थायी और जिम्मेदार तरीके से मत्स्यपालन क्षेत्र की क्षमता का दोहन किया जा सके।

केंद्र सरकार द्वारा देश में कृषि से जुड़े किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए कई तरह की योजनाएँ सँचालित की जाती है। 

पशुपालकों के साथ-साथ अब केंद्र सरकार द्वारा मत्स्य पालन का व्यवसाय करने वाले किसानों को भी आर्थिक सहयोग देने के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना की शुरुआत की गई है।

इस योजना से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी प्राप्त करने के लिए किसान pmmsy.dof.gov.in पर विजिट कर सकते हैं।

इसकी जानकारी प्राप्त कर आवेदन के लिए अपने राज्यों की मत्स्य पालन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकेंगे।